राजस्थानी सिनेमा: चार साल बाद फरवरी में बना फिर वही संयोग

rajasthanicinema

दो राजस्थानी फिल्में हो रही हैं रिलीज, इस बार खास यह कि दोनों एक ही दिन लगेंगी
जयपुर। इस साल फरवरी में दो राजस्थानी फिल्में रिलीज हो रही हैं। एक नानी बाई को मायरो और दूसरी पक्की हीरोगिरी। चार साल बाद ऐसा मौका आया है जब इस महीन में दो फिल्में सिनेमाघरों तक पहुंच रही हैं। इस बार खास बात यह है कि दोनों एक ही दिन प्रदर्शित हो रही हैं। कितनी फिल्में 2017 में रिलीज होंगी यह तो भविष्य के गर्भ में है, लेकिन इसे एक अच्छी शुरुआत तो कह ही सकते हैं।
पिछले सात साल के आंकड़ों पर नजर डालें तो फरवरी, 2012 में दो फिल्में रिलीज हुई थीं। एक के बाद एक। निर्माता मुकेश टांक की चूंदड़ी ओढ़ासी म्हारो बीर 10 फरवरी को सिनेमाघरों में लगी थी। इसके अगले सप्ताह 17 फरवरी को रिलीज हुई थी गजेंद्र क्षो़ित्रय की फिल्म भोभर। दोनों ही फिल्में चर्चित रही थीं।

ये फिल्में रिलीज हुईं फरवरी में
2011 से अब तक उपलब्ध डेटवार आंकड़ों के अनुसार फरवरी 2013 में एक फिल्म रिलीज हुई थी निर्माता निर्देशक विपिन तिवाड़ी की पटेलण। अपने सब्जेक्ट के कारण चर्चा में रही इस फिल्म में परी शर्मा मुख्य भूमिका में थी और अभिनेता श्रवण सागर डबल रोल में। वर्ष 2014 में 27 फरवरी को जय हींगळाज माता प्रदर्शित हुई। धार्मिक फिल्म होने के कारण लोगों ने इसे काफी पसंद किया। इसके बाद 2016 में 19 फरवरी को आई निर्माता रमन यादव की फिल्म कजराली-नखराली। लखविंदर सिंह निर्देर्शित इस फिल्म में इमरान खान कोहरी व सचिन चैबे हीरो थे तथा उनके अपोजिट नेहा श्री डबल रोल में थीं।

Leave a Reply