पोस्टर्स में दर्शाया राजस्थानी फिल्मों का सफर

rajasthani film poster exibition
rajasthani film poster exibition

कलानेरी आर्ट गैलरी में शुरु हुई ‘राजस्थानी सिनेमा पोस्टर प्रदर्शनी’, जयपुर महापौर निर्मल नाहटा ने किया उदघाटन

जयपुर। ‘राजस्थानी फिल्म पोस्टर प्रदर्शनी’ शनिवार को जयपुर के जेएलएन मार्ग स्थित कलानेरी आर्ट गैलरी में शुरू हुई। प्रदर्शनी का उद्घाटन निर्मल नाहटा ने किया। इस मौके पर प्रदेशभर से आई सिनेमा से जुड़ी हस्तियां मौजूद थीं। इसमें मुंबई से भी सिने प्रेमी शामिल हुए।

क्रेसेंट पिक्चर्स एवं जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (जिफ) के संयुक्त तत्वावधान में लगाई गई इस प्रदर्शनी में राजस्थानी भाषा की पहली फिल्म से लेकर अब तक बनी करीब डेढ़ सौ फिल्मों के पोस्टर प्रदर्शित किए गए हैं। आयोजक मोहसिन खान ने बताया कि प्रदर्शनी लगाने के पीछे उनका मुख्य उद्देश्य राजस्थानी सिनेमा को बढ़ावा देना है। साथ ही लोगों को इस इंडस्ट्री के बारे में बताना भी है। उन्होंने बताया कि पोस्टर्स के जरिए लोग यह भी जान पाएंगे कि शुरुआती दौर में राजस्थानी भाषा में कैसी फिल्में बनती थीं। जब यह इंडस्ट्री पीक पर थी तब कैसी फिल्में बनती थीं और अभी कैसी बन रही हैं। साथ ही आने वाले समय में कैसी फिल्में देखने को मिलेंगी, इसकी भी जानकारी मिलेगी।

ये फिल्मी हस्तियां रहीं मौजूद

कलानेरी आर्ट गैलरी में शुरू हुई ‘राजस्थानी फिल्म पोस्टर प्रदर्शनी’ में राजस्थानी फिल्मों से जुड़े कई निर्माता, निर्देशक और कलाकार शामिल हुए। निर्माता-अभिनेता मोहन कटारिया की उपस्थिति खास रही। सही से नहीं चल पाने के बावजूद अपने सिनेमा के लिए वे प्रदर्शनी में पहुंचे और काफी देर तक रहे। गीतकार इकराम राजस्थानी, निर्माता एनके मित्तल, तिलोक कोठारी राजेंद्र गुप्ता, गोपाल शर्मा, निर्देशक लखविंदर सिंह, सुरेश मुदगल, विक्रम कटारीमार, अनिल सैनी, अभिनेता राज जांगिड़, श्रवण सागर, दीपक मीणा, शकूर खान, आर्यन माहेश्वरी, जफर एजाज खान, गीतकार धनराज दाधीच, क्षितिज कुमार, शत्रुघ्न पारीक , गोपाल कृष्ण योगेश, गोतम बोकाडिया, बलजीत, आदित्येन्द्र शर्मा , सिकंदर चौहान , संजना शर्मा, राहूल सूद, गोपाल शर्मा, जहीर शेख, म॔जूर अली ,  उग्रसैन तंवर, पूनम मोदी , नन्दू जालानी, मधु आचार्य, पंकज भोमिया, मोहन सैनी सहित कई फिल्मकार-कलाकारों ने इस मौके पर उपस्थित होकर राजस्थानी सिनेमा के विकास के लिए कदम से कदम मिलाकर चलने का जज्बा दिखाया।

Leave a Reply